Article

3/8/2019 8:25:00 AM'

रेखा लक्ष्मी को कल्पना चावला शौर्य पुरस्कार, महिला दिवस पर 23 होंगी सम्‍मानित

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर हरियाणा सरकार विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली 23 महिलाओं को सम्मानित करेगी। पंचकूला में आज होने वाले राज्य स्तरीय समारोह में रेवाड़ी की रेखा लक्ष्मी सिंह चोकन को कल्पना चावला शौर्य पुरस्कार दिया जाएगा। पुरस्कार में उन्हें 50 हजार रुपये व प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा। खेल श्रेणी के अंतर्गत नेहा गोयल, करनाल की सोनिया, चरखी दादरी की शंकुतला देवी, हिसार की एकता भ्याणा और कृष्णा देवी को 21-21हजार रुपये व प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस प...

2/12/2019 6:59:00 AM'

बुर्का पहनें या शॉर्ट ड्रेस, ट्रोलर्स का काम है ट्रोल करना, रहमान से पंगा लेना पड़ गया महंगा

एआर रहमान कान्ट्रोवर्सी से हमेशा दूर रहते हैं। उन्होंने अपने परिवार को भी लाइम लाइट से दूर रखा है। ताजा मामले को भी उन्होंने खूबसूरती से हैंडिल किया। सीमा झा। बेटी के बुर्का पहनने पर ट्रोल हुए एआर रहमान तो उन्होंने भी ट्रोलर्स को जोरदार जवाब दे डाला। उन्होंने इसे 'राइट टु चूज' के हैशटैग से बुर्का को बेटी की पसंद बताया। इधर, उनकी बेटी ने भी ट्रोलर्स को मुंहतोड़ जवाब दिया है। दरअसल, 'स्लमडॉग मिलेनियर' के 10 साल पूरे होने पर आयोजित एक कार्यक्रम में एआर रहमान की बेटी को उनका इंटरव्यू लेने के लिए ...

2/11/2019 6:53:00 AM'

कचरे को ‘सोना’ बनाती हैं महिलाएं, देशभर में अपनाया गया मॉडल

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में महिलाओं का समूह बनाकर शुरू किया गया डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण का प्रयोग देश के लिए रोल मॉडल बन गया। महिलाओं के समूह ने कचरे को सोना बनाना सिखाया और संग्रहित कचरे से कबाड़ अलग कर लाखों की कमाई भी कर रही हैं। इससे करीब 450 महिलाओं को स्थाई रोजगार भी मिला हुआ है। वर्तमान में स्वच्छता के इस मॉडल को सर्वश्रेष्ठ बता पूरे देश में अपनाया गया है और महानगरों के साथ ही देशभर के निकायों से अधिकारी यहां का स्वच्छता मॉडल देखने पहुंच रहे हैं। इस मॉडल ने अंबिकापुर को डंपिंग यार्ड फ्री शह...

2/9/2019 7:45:00 AM'

सोशल मीडिया पर अब मासिक धर्म की भी इमोजी, लंबे समय से की जा रही थी मांग

वाट्सएप, फेसबुक के अलावा अन्य सोशल मीडिया साइटों पर चैट के दौरान महिलाओं को कई बार अपने मासिक धर्म के बारे में बात करने के लिए इमोजी की जरूरत पड़ती है। कई संगठन लंबे समय से इस इमोजी की मांग कर रहे थे। उनका कहना है कि इमोजी आने से मासिक धर्म पर खुली बातचीत को नई दिशा मिलेगी। आखिरकार उनकी मांग पूरी हो गई है। इमोजी और इंटरनेट पर मौजूद टेक्स्ट की निगरानी करने वाली संस्था यूनिकोड कंसोर्टियम ने मासिक धर्म की इमोजी को हरी झंडी दे दी है। यह इमोजी खून की एक बड़ी बूंद है। इसके अलावा 59 अन्य इमोजी को...

2/8/2019 7:07:00 AM'

निर्धनता की चुनौतियों को पछाड़ बन गई जीवन की असल चैंपियन 'दुर्गा'

यह प्रेरक कहानी है मध्यप्रदेश के ग्वालियर में रहने वाली 18 वर्षीय मार्शल आर्ट चैंपियन दुर्गा दास की। झुग्गी में बसर करने वाले मजदूर मोहन दास की बेटी दुर्गा निर्धनता की चुनौतियों को पछाड़ती आई है। कराटे-मिक्स मार्शल आर्ट की राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय चैंपियन यह बिटिया अब बुजुर्ग पिता का सहारा बन परिवार का बोझ भी उठा रही है। छत्तीसगढ़ में जन्मे मोहन दास रोजी रोटी की तलाश में सालों पहले ग्वालियर आ गए थे। तीन बेटियों के पिता मोहन ने कभी सोचा नहीं था कि उनकी बेटी राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनका...

2/8/2019 7:06:00 AM'

कांग्रेस ने कहा- सत्ता में आएंगे तो खत्म करेंगे तीन तलाक कानून, बीजेपी भड़की

कांग्रेस ने गुरूवार को कहा कि अगर 2019 लोकसभा चुनाव में वे सत्ता में आती है तो तीन तलाक कानून को खत्म कर देगी। तीन तलाक कानून मुसलमानों में फौरन तलाक को अपराध मानता है। समाचार एजेंसी पीटीआई ने कांग्रेस नेता सुष्मिता देव का हवाला दिया है, जिन्होंने नई दिल्ली में गुरूवार को एआईसीसी माइनरिटी डिपार्टमेंट के नेशनल कन्वेंशन में कहा- “कांग्रेस पार्टी ने संसद में खड़ा होकर इसका विरोध किया। मैं आपसे वादा करता हूं कि जब 2019 चुनावों में कांग्रेस सत्ता में आएगी तो हम तीन तलाक कानून को खत्म कर देंगे।” ...

2/6/2019 8:41:00 AM'

घटती आबादी का ठीकरा महिलाओं पर फोड़ा

घटती आबादी का ठीकरा महिलाओं पर फोड़ा जापान के उप प्रधानमंत्री टारो आसो देश की घटती आबादी के लिए महिलाओं को जिम्मेदार ठहराने वाले अपने बयान पर बुरे फंस गए हैं। विवाद के बाद आसो ने कहा कि अगर उनके बयान से लोग आहत हुए हैं तो वह इसे वापस लेते हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एक भाषण के दौरान 78 वर्षीय आसो ने कहा था कि वह नहीं मानते की घटती आबादी के लिए बुजुर्ग जनसंख्या जिम्मेदार है। देश के वित्त मंत्री का पद भी संभाल रहे आसो ने कहा कि कम आबादी के लिए वह महिलाएं जिम्मेदार हैं जो बच्चों को जन्म...

2/5/2019 9:50:00 AM'

'रख हौसला वो मंजर भी आएगा, प्यासे के पास चलकर समंदर भी आएगा', ऐसी ही है अपर्णा की कहानी

'रख हौसला वो मंजर भी आएगा, प्यासे के पास चलकर समंदर भी आएगा। थककर न बैठ ऐ मंजिल के मुसाफिर, मंजिल भी मिलेगी और मिलने का मजा भी आएगा।' बीती 13 जनवरी को दक्षिणी ध्रुव पर तिरंगा फहराने वाली देश की पहली महिला आइपीएस 44-वर्षीय अपर्णा कुमार पर यह पंक्तियां एकदम सटीक बैठती हैं। अपर्णा अब उत्तरी ध्रुव पर तिरंगा फहराने की तैयारी में हैं। इसके बाद वह उत्तरी अमेरिका के अलास्का में माउंट डेनाली चोटी का आरोहण करेंगी। 2002 बैच की आइपीएस अपर्णा कुमार महिला सशक्तीकरण की मिसाल बन चुकी हैं। वर्तमान में वह देहर...

2/1/2019 9:41:00 AM'

गरीब बच्चों को मुफ्त में पढ़ा उनके सपनों में पंख लगा रहीं गुरुग्राम की शालिनी

'यत्न' को हरियाणा राज्य के गुरुग्राम में रहने वाली शालिनी कपूर ने शुरू किया है। 'यत्न' के स्कूल में बच्चों को खेल-खेल में पढ़ाया भी जाता है, उनकी हेल्थ का भी ध्यान रखा जाता है, खाने को नई-नई चीजें लाकर दी जाती हैं और जरूरत पड़ने पर कपड़े भी मुहैया कराए जाते हैं। 'यत्न' को शालिनी ने अपने घर से शुरू किया था। आज उनके साथ कुछ लोग और जुड़ गए हैं। 'यत्न' का उद्देश्य इन बच्चों की अंधेरी जिंदगियों में न केवल शिक्षा की रोशनी लाना है बल्कि उनकी छुपी हुई प्रतिभाओं को भी उभारने की कोशिश की जाती है। वो सारी...

1/24/2019 6:14:00 AM'

National Girl Child Day: पढ़ने, लड़ने, बढ़ने के हौसले से चुनौतियों को हरा रहीं बेटियां

राष्ट्रीय बालिका दिवस आज: बेटियों ने अपने हौसलों से हर मुश्किल आसान की है। राष्ट्रीय बालिका दिवस पर आइये हम जानें गांव-पहाड़-जंगलों की ऐसी बेटियों की कहानी, जिन्होंने अभाव की जिंदगी को वरदान में बदल अपना मुकाम हासिल करने में जुटी हैं। (हिटी)  उत्तराखंड: देहात की बेटी निर्वेश ने कर्ज लेकर सोना जीता लक्सर। पिता का साया बचपन में ही सिर से उठ गया। मां और भाई मजदूरी कर मुश्किल से परिवार का पालन-पोषण कर रहे हैं।  मगर मुश्किलों के बावजूद निर्वेश सैनी का हौसला नहीं टूटा। परिवार ने साहूकार से कर्ज लेक...

1/18/2019 8:09:00 AM'

जो पुरुष बेटी के पिता होते हैं वो करते हैं महिलाओं का ज्यादा सम्मान

भारत और दुनिया में के कई देशों में महिलाओं के साथ किया जाना वाला भेदभाव किसी से छिपा नहीं है। हाल ही में किए गए एक अध्ययन में सामने आया है कि महिलाओं में भेदभाव करने का ज्यादा संभावना पुरुषों में होती है और वही पुरुष ऐसा करते हैं जो बेटी के पिता नहीं होते। एक अध्ययन में पाया गया है कि जो पुरुष बेटी के पिता होते हैं उनमें महिलाओं के साथ भेदभाव की पारंपरिक सोच होने की संभावना कम होती है। बेटी के स्कूल जाने की उम्र में पहुंचने तक यह संभावना और कम हो जाती है। ब्रिटेन में 1991 से 2012 के बीच के ...

1/11/2019 11:40:00 AM'

मिलिए भारत की पहली महिला फायर फाइटर हर्षिनी कान्हेकर से

पुरुषों के क्षेत्र में क़दम रखकर हर्षिनी ने न स़िर्फ इतिहास रचा है, बल्कि कई लड़कियों की प्रेरणा भी बनी हैं. हर्षिनी कान्हेकर के लिए भारत की पहली महिला फायर फाइटर बनने का सफ़र कितना संघर्ष भरा था? आइए, उन्हीं से जानते हैं. मैं यूनीफ़ॉर्म पहनना चाहती थी यूनीफॉर्म पहने ऑफिसर्स को देखकर मैं हमेशा यही सोचती थी कि आगे चलकर मैं भी यूनीफॉर्म पहनूंगी, चाहे वो यूनीफॉर्म कोई भी क्यूं न हो. एडवेंचरस एक्टिविटीज़ मुझे बहुत पसंद थीं इसलिए पढ़ाई के दौरान मैं एनसीसी की केडेट भी रही. पीसीएम में बीएससी करने के ...

1/11/2019 10:51:00 AM'

Crime up by 6% in 2018, slight dip in crime against women

Heinous crimes such as murder also showed downward trend, police data reveal The Capital witnessed an increase of 6.01% in crime reported last year as compared to 2017, however, cases of crime against women saw a marginal decrease, revealed data shared by the Delhi Police on Wednesday. Heinous crimes such as murder, rape, robbery, and attempt to murder also showed a downward trend in 2018. The total number of criminal cases registered in 2018 stood at 2,36,476, as compared to 2,23,077 in ...

11/10/2018 9:24:00 AM'

‘Odisha making significant strides in tribal development’

It was possible due to innovative schemes and special measures, says research institute Odisha has made significant strides in tribal empowerment and development during the past couple of decades, according to the Scheduled Castes and Scheduled Tribes Research and Training Institute, a premier State-run institute on tribes. “A comparative analysis between two reference periods such as 2001-02 and 2011-12 in 13 tribal-dominated districts indicates that seven districts have climbed up, two di...

7/21/2018 9:12:00 AM'

Hima Das: From obscurity to fame in 51.46 seconds

Hima Das’ historic gold at the World U20 Championships captured the nation’s imagination. Coaches say the 18-year-old quartermiler has the potential to be a breakout star, but she will need support and careful handling. No device can measure the impact created by Hima Das in Tampere, Finland. Considering the buzz the historic gold medal generated in the news and social media, one can safely assume that Hima caught the nation’s imagination when she became the first Indian to win a track event ...