Bulletins

4/19/2019 10:49:00 AM'

गर्भपात के कानूनों में बदलाव के लिए 5 साल का इंतजार, दुनिया के कई देशों में है इजाजत

पिछले महीने, जब महाराष्ट्र में एक महिला को पता चला कि उनके 22 हफ्ते के भ्रूण के साथ ऐसी दिक्कतें हैं, जिससे गंभीर शारीरिक बाधा का जोखिम हो सकता है तो उन्होंने अदालत का रूख किया। क्योंकि भारत में 20 हफ्ते से ज्यादा के भ्रूण का गर्भपात करने की कानूनी तौर पर इजाजत नहीं है। महिला और उनके पति को कोर्ट का रूख न करना पड़ता यदि पांच साल पुराने प्रस्ताव को परित कर दिया गया होता, जिाके मुताबिक, यदि 24 हफ्तों में गर्भ में कोई इस तरह की दिक्कत आती है तो एमपीटी (मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेग्नेंसी) किया जा सकता...

4/17/2019 7:12:00 AM'

महिलाओं से भेदभाव के आरोप पर अग्नि मंदिर ट्रस्ट ने हाईकोर्ट में दिया ये जवाब

राजधानी स्थित अग्नि मंदिर ट्रस्ट ने गुरुवार को हाईकोर्ट में मंदिर में प्रवेश को लेकर महिलाओं के साथ भेदभाव के आरोपों को नकार दिया है। ट्रस्ट ने हाईकोर्ट को बताया कि पूजास्थल पर सिर्फ मासिक धर्म वाली महिलाओं को ही नहीं, बल्कि ऐसे घायल पुरुषों को भी प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाती है, जिनके शरीर से खून निकल रहा हो। चीफ जस्टिस राजेंद्र मेनन और जस्टिस ए.जे. भंभानी की बैंच के समक्ष ट्रस्ट ने एक जनहित याचिका के जवाब में यह दलील दी। ट्रस्ट (दिल्ली पारसी अंजुमन) ने बैंच से कहा कि चूंकि दिल्ली गेट के पा...

4/17/2019 7:11:00 AM'

प्रो. नजमा अख्तर बनीं जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी की पहली महिला कुलपति

जामिया मिलिया इस्लामिया के इतिहास में पहली बार प्रो नजमा अख्तर पहली महिला कुलपति बनी हैं। ख्यातिप्राप्त शिक्षाविद प्रो अख्तर जामिया ही नहीं दिल्ली स्थित किसी भी केंद्रीय विश्वविद्यालय की पहली महिला कुलपति बनी हैं। इसे शैक्षणित नेतृत्व के इतिहास में एक प्रगतिवादी निर्णय माना जा रहा है जो जामिया के लिए भी गौरव का विषय है। पूरे जामिया समुदाय ने शुक्रवार को इस नियुक्ति के निर्णय का स्वागत किया है। साथ ही विभिन्न विषयों और ज्ञान व अध्ययन के क्षेत्र में सकारात्मक प्रगति को लेकर अपनी आकांक्षाएं भी...

4/17/2019 7:10:00 AM'

एडहॉक स्टाफ पर मातृत्व लाभ अधिनियम क्यों लागू नहीं होता है: हाईकोर्ट ने दिल्ली विश्वविद्यालय से पूछा

दिल्ली उच्च न्यायालय ने बुधवार (10 अप्रैल) को पूछा कि मातृत्व लाभ अधिनियम दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के तदर्थ कर्मचारियों पर क्यों नहीं लागू होगा जबकि यह किसी प्रतिष्ठान या सरकारी उपक्रम के संविदा कर्मचारियों पर लागू है। न्यायमूर्ति सुरेश कैत ने केन्द्र, विश्वविद्यालय और यहां अरबिंदो कॉलेज को नोटिस जारी करते हुए डीयू से यह सवाल किया। अदालत ने एक महिला तदर्थ प्रोफेसर की याचिका पर उनका रुख पूछा है। याचिका में महिला प्रोफेसर ने आरोप लगाया है कि उसे मातृत्व अवकाश देने से इनकार कर दिया गया क्योंक...

4/15/2019 11:02:00 AM'

एक गांव ऐसा जहां महिलाएं नहीं डालती हैं वोट

उत्तर प्रदेश की धौरहरा लोकसभा क्षेत्र का गांव गनेशपुर जहां के किसी भी छोटे बड़े चुनाव में महिलाओं को वोट देने का अधिकार नहीं है। इस बार प्रशासन 70 सालों से चली आ रही इस परंपरा को तोड़ने की कोशिश कर रहा है। धौरहरा लोकसभा और विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के ईसानगर ब्लॉक में गनेशपुर गांव है। जहां करीब करीब 4500 की जनसंख्या पर करीब 3400 मतदाता हैं। इनमें महिलाओं की संख्या आधी है। चुनाव चाहे पंचायत का हो फिर लोकसभा या विधानसभा का। यहां मतदान पर पुरुष अपना इकलौता अधिकार जताते रहे। गांव में ब्याह कर आई म...

4/15/2019 10:32:00 AM'

एक वोट से नहीं बन सकीं सीएम

सुशीला गोपालन संसद के उन सदस्यों में याद की जाती हैं जो छात्र आंदोलन से देश की राजनीति में आई थीं। आंदोलन के क्रम में कई बार जेल गईं। वे जीवन भर मजदूरों के हक की लड़ाई लड़ती रहीं। वे कई सालों तक केरल सरकार में मंत्री भी रहीं। वे देश के ट्रेड यूनियन और नारीवादी आंदोलन का प्रमुख नाम थीं। तीन बार लोकसभा में : सुशीला गोपालन ने 1967 में चौथी लोकसभा का चुनाव सीपीएम के टिकट पर अलपुझा से जीता और पहली बार संसद में पहुंचीं। इसी साल उनके पति एके गोपालन कासरगोड से जीतकर संसद में पहुंचे थे। इसके बाद वे 198...

4/15/2019 10:30:00 AM'

दिल्ली-NCR को लेकर मौसम विभाग की चौंकाने वाली भविष्यवाणी

Weather Update: दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में मौसम के मिजाज में बदलाव जारी है। मौसम में उतार-चढ़ाव के बीच कभी तेज धूप, कभी बारिश और कभी धूल भरी आंधी चल रही है। भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department) के मुताबिक, मौसम में इस तरह का बदलाव पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) के सक्रिय होने से हो रहा है। इससे दिल्ली-एनसीआर का तापमान 4 डिग्री तक गिर जाएगा और तापमान में इतनी गिरावट चौंकाने वाली होगी। यूं भी मौसम विभाग पहले ही कह  चुका है कि इस बार दिल्ली-एनसीआर में गर्मियों के...

4/15/2019 10:27:00 AM'

वाराणसी की वायु गुणवत्ता बिगड़ी, कानपुर दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी की वायु गुणवत्ता सौंदर्यीकरण और आधारभूत संरचना के चलते बिगड़ती जा रही है। यही वजह है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की 15 सर्वाधिक प्रदूषित शहरों की सूची में इसे तीसरे स्थान पर रखा गया है। हालांकि विश्व के सबसे अधिक प्रदूषित शहर की बात करें तो कानपुर सूची में प्रथम स्थान पर है। यह दावा पर्यावरण के लिए काम करने वाली दिल्ली स्थित एक संस्था ने किया है। डब्ल्यूएचओ की इस सूची में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली छठे स्थान पर है। इसके लिए ...

4/10/2019 9:26:00 AM'

लोकसभा चुनाव 2019 उत्‍तराखंड में महायज्ञ में नारी शक्ति की अहम भूमिका

प्रदेश में 11 अप्रैल को होने वाले मतदान को संपन्न कराने के लिए महिलाएं भी अहम भूमिका निभाएंगी। प्रदेश में महिलाओं के कुल 49 बूथ बनाए गए हैं। इनमें से 49 को सखी और एक बूथ को पर्दानशीं नाम दिया गया है। इन सभी बूथों में पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी व सुरक्षाकर्मी महिलाएं ही होंगी। लोकसभा चुनाव में प्रदेश में पहली बार महिला कार्मिकों की ड्यूटी लगी है। हालांकि इससे पहले विधानसभा चुनावों में भी इनकी ड्यूटी लग चुकी है लेकिन इस बार इनकी संख्या अधिक है। पहले राज्य निर्वाचन आयोग प्रदेश की पांच लोकसभ...

4/10/2019 9:25:00 AM'

दिल्ली- NCR के लिए नासूर बनता जा रहा है वायु प्रदूषण, आखिर क्यों नहीं बनता चुनावी मुद्दा

राजनीतिक स्तर पर आरोप प्रत्यारोप भले जो भी चलते रहें, लेकिन सच यह है कि दिल्ली-एनसीआर का वायु प्रदूषण अब नासूर बनता जा रहा है। प्रदूषण के कारक भी बाहरी नहीं, बल्कि भीतरी ही हैं। मसलन, दिल्ली के प्रदूषण में 61 फीसद हिस्सा वाहनों और औद्योगिक इकाइयों के धुंए का ही है। पीएम 2.5 और पीएम 10 भी यहां तय सीमा से औसतन 76 फीसद ज्यादा है। हैरानी की बात यह भी कि सरकारी स्तर पर भी प्रदूषण से निपटने के लिए योजनाएं तो तमाम बन रही हैं, लेकिन उनके क्रियान्वयन को लेकर गंभीरता कहीं नजर नहीं आती। विभागीय तालमेल क...

4/10/2019 9:24:00 AM'

प्रदूषण पर लास्‍ट वार: लंदन ने दिखाई दुनिया को राह, विश्‍व का पहला अल्‍ट्रा लो एमिशन जोन बना ये शहर

ब्रिटिश की राजधानी लंदन 24 घंटे, सात दिन एक सप्‍ताह अल्‍ट्रा लो एमिशन जोन  ( ULEZ ) लागू करने वाला दुनिया का पहला शहर बन गया है। अब इस शहर में चलने वाले वाहनों को सख्‍त उत्‍सर्जन मानकों को पूरा करना होगा। इन मानकों का उल्‍लंघन करने पर उन्‍हें भारी शुल्‍क भरना होगा। प्रदूषण से जूझ रही दुनिया को लंदन शहर ने एक नई राह दिखाई है। खासकर भारत की राजधानी दिल्‍ली के लिए यह सबक हो सकता है। दरअसल, लंदन में अल्‍ट्रा लो इमिशन जोन की शुरुआत फरवरी 2017 में हुई थी। इसके तहत लंदन के सिटी सेंटर में अत्‍यधिक प्...

4/10/2019 9:23:00 AM'

यूपी के इस 'राम' के पास है आर्टिफिशियल तालाब बनाने का हुनर

दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा के गांव डाढ़ा के रहने वाले पेशे से  मैकेनिकल इंजीनियर रामवीर तंवर (26) ऐसा काम कर दिखाया है, जिससे आने वाले समय में पानी की समस्या काफी हद तक कम हो सकती है। उन्होंने अपने गांव के पास कृत्रिम तालाब (artificial ponds) निर्मित किया है, जो ग्रामीणों की पानी की समस्या को काफी हद तक दूर करता है। रामवीर की मानें तो उन्हें कृत्रिम तालाब निर्मित करने का विचार अनुपम मिश्रा की पुस्तक पढ़कर आया, जिसमें इस बात  का जिक्र था। रामवीर ने आखिरकार स्थानीय लोगों और ग्रा...

4/10/2019 7:59:00 AM'

देश की राजधानी में महिला सुरक्षा के दावे हवा-हवाई

दिल्ली में महिलाओं की सुरक्षा दिल्ली पुलिस ही नहीं केंद्र व राज्य सरकार के लिए भी हमेशा से गंभीर चुनौती रही है। वे महिलाओं की सुरक्षा को प्राथमिकता बताने से नहीं चूकती हैं। सुधार लाने की दिशा में किए जाने वाले बड़े-बड़े दावे हवा-हवाई साबित होकर रह जाते हैं। इसलिए दिल्ली में महिला सुरक्षा सबसे गंभीर समस्या बनी हुई है। न तो केंद्र व राज्य सरकार अपने दावों पर खरी उतर पा रही हैं और न ही दिल्ली पुलिस। चुनाव में या किसी बड़ी घटना में यह मुद्दा फिर मुखर हो जाता है। सड़क पर, सार्वजनिक वाहनों व निजी कंपनि...

4/10/2019 7:57:00 AM'

प्रताड़ना से ससुराल छोड़ने वाली महिला कहीं से भी दर्ज करा सकती है केस

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एक अहम फैसला सुनाते हुए कहा कि क्रूर व्यवहार या प्रताड़ना के कारण ससुराल छोड़कर मायके आ गई या किसी और जगह शरण लेने वाली महिला जहां शरण लेती है वहीं पर आइपीसी की धारा 498ए (प्रताड़ना) का मुकदमा दर्ज करा सकती है। वहां की अदालत को उस मुकदमे को सुनने का क्षेत्राधिकार होगा। कोर्ट ने धारा 498ए की व्याख्या करते हुए कहा कि इसमें शारीरिक और मानसिक दोनों प्रताड़नाएं शामिल मानी जाएंगी। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, एल. नागेश्वर राव और संजय किशन कौल की पीठ ने दो न्यायाधीशों की ...

4/9/2019 10:51:00 AM'

NGT raps DPCC over failure to curb air pollution in the Capital

DPCC’s power may be transferred to CPCB if steps not taken, warns green panel The National Green Tribunal (NGT) has pulled up the Delhi Pollution Control Committee (DPCC) for failing to take steps to curb air pollution in the Capital. Directing the Delhi Chief Secretary to look into the issue, the green panel warned that the Centre may be asked to transfer power of the DPCC to the Central Pollution Control Board (CPCB) if the State pollution monitoring body continues to “defeat law”. Noting...